Enviroment Science & General Paper

आईजीआई एयरपोर्ट को कार्बन न्यूट्रल घोषित किया गया

एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल ने इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को कार्बन न्यूट्रल स्टेटस हवाई अड्डा घोषित किया गया. इस  उपलब्धि के साथ ही आईजीआई एयरपोर्ट एशिया-पेसिफिक का पहला एयरपोर्ट बन गया है.

यह घोषणा एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल (एसीआई) ने कनाडा के मांट्रियल शहर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान की.

  • इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की तरफ से हवाई अड्डे का परिचालन कर्त्ता कंपनी डेल्ही इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आई प्रभाकर राव ने एयरपोर्ट कार्बन एक्रीडिएशन प्रमाणपत्र ग्रहण किया.
  • एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल ने लगातार दूसरी बार ढाई से चार करोड़ यात्रियों वाली श्रेणी (25-40 मिलियन कैटेगरी) में सर्विस क्वालिटी के सन्दर्भ में इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को विश्व का सर्वश्रेष्ठ एयरपोर्ट घोषित किया है.
  • मुख्य कार्यकारी अधिकारी  (सीईओ) आई प्रभाकर राव के अनुसार एविएशन क्लाइमेट चेंट मिटिगेशन कार्यक्रम के तहत कार्बन न्यूट्रलिटी के स्थाई समाधान हेतु इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट प्रतिबद्ध है.
  • इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर इस क्षेत्र में विभिन्न एजेंसियां एवं एयरलाइंस पूर्ण टीम भावना के साथ काम कर रही हैं.
  • इंदिरागांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट ने वर्ष 2020 तक सोलर पॉवर से 20 मेगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य निर्धारित किया है.

 

इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बारे में-

 

  • इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सर्वाधिक यात्री सफर करते हैं. यह विश्व रिकॉर्ड है.
  • आरम्भ में इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट का संचालन भारतीय वायु सेना द्वारा किया जाता था.
  • बाद में इसका प्रबंधन दायित्व भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को सौंप दिया गया.
  • अनुबंध के बाद मई 2006 से हवाई अड्डे का प्रबंधन दिल्ली अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) को सौंप दिया गया.
  • अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) जीएमआर समूह के नेतृत्व में एक संयुक्त उद्यम (ज्वाइन्ट वेन्चर) है.
  • डायल को ही विमानक्षेत्र में भविष्य में किए जाने वाले विस्तार एवं आधुनिकीकरण हेतु उत्तरदायी बनाया गया है.
  • इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट की वार्षिक यात्री वहन क्षमता 340 लाख यात्रियों की है.
  • इस का टर्मिनल-3 विश्व का 8वां सबसे बड़ा यात्री टर्मिनल है.
  • इंदिरा गांधी अन्तर्राष्ट्रीय विमानक्षेत्र को 2010 में एयरपोर्ट काउन्सिल इन्टरनेशनल द्वारा 150-250 लाख यात्री श्रेणी में विश्व का चौथा सर्वोत्तम विमानक्षेत्र, एवं एशिया-प्रशांत क्षेत्र में सर्वाधिक प्रगति वाला विमानक्षेत्र होने का सम्मान प्रदान किया गया.